Business

VIL, Tata Teleservices, TTML will not become PSUs: Govt

नई दिल्ली: टेलीकॉम ऑपरेटर्स वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (वीआईएल), टाटा टेलीसर्विसेज लिमिटेड तथा टाटा टेलीसर्विसेज संचार मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि (महाराष्ट्र) लिमिटेड (टीटीएमएल) बकाया राशि पर देय ब्याज को सरकारी इक्विटी में बदलने के बाद सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम नहीं बनेंगे।
कर्ज में डूबी तीनों कंपनियों ने सरकार को देय अपनी ब्याज देनदारी को इक्विटी में बदलने का प्रस्ताव दिया है।
दूरसंचार मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “ये तीन कंपनियां सार्वजनिक उपक्रम नहीं बनेंगी। इन तीन कंपनियों को पेशेवर रूप से संचालित निजी कंपनियों के रूप में प्रबंधित किया जाना जारी रहेगा।”
धर्मांतरण के बाद सरकार की VIL में 35.8 फीसदी और TTML में लगभग 9.5 फीसदी हिस्सेदारी होगी।




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *